spot_img
HomeYojanaप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ एवं पंजीकरण कैसे...

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ एवं पंजीकरण कैसे करें। » सरकारी योजनाएं हिन्दी में

फसलो पर सबसे ज्यादा असर मौसम का होता है यदि मौसम अच्छा है तो फसल अच्छी नही तो फसल बर्वाद हो जाती है।  वैंसे तो हमारे देश में किसानों से संबन्धित कई योजनाओं की शुरुआत की गई।उन सभी योजनाओं का मुख्य उद्देश्य होता था कि किसानों को इसका ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके। इसी को धयान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा एक व्यापक, सस्ती और असरदार योजना तैयार की गई।

जो की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम से जानी जाती है। आज के इस लेख में किसानों से जुड़ी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना  है के बारें में सारी जानकारी देगें।तो यदि आप Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana (PMFBY  से संबन्धित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इसे ध्यान से पढ़े…….

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) 2016 में शुरू की गई थी।यदि किसी किसान की फसल का नुकसान प्राकृतिक आपदाओं, बेमौसम बारिश, कीट, फसल की बीमारियों के द्वारा होता है तो इस योजना के द्वारा किसानों की फसलों के नुकसान की भरपाई सरकार के द्वारा किया जाता है।

इस योजना का क्रियान्वन ‘One Nation, One Crop, One Premium’ के मानक पर कार्य करता है जिसका उद्देश्य देश के किसानों की बहुमूल्य फसलों का बीमा प्रदान करना। प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना का लक्ष्य देश में कुल बोए गए क्षेत्र को कवर करने के लिए प्राथमिक ध्यान के साथ भारत में बीमा में फसल की पहुंच का विस्तार करना है।

केन्द्र सरकार के द्वारा 8800 करोड़ रुपए का बजट PM Fasal Bima Yojana केलिए निर्धारित किया गया है।इस योजना के तहत किसानों को बीमे कवर लेने के लिए खरीफ की फसल के लिए 2% तथा रवि की फसल के लिए 1.5% का  भुगतान प्रीमियम के तौर पर करना होगा।

प्रधानमंत्री फसल योजना के लिये 2021-22 के लिए राशि बढ़ाई गई

किसानो को ज्यादा से ज्यादा से लाभ पहुंचाने के लिए केन्द्र सरकार ने 2021-22 के लिए पीएमएफबीवाई के लिए 305 करोड़ रुपये ज्यादा आवंटित किए।जबकि 2020-21 के लिए अवंटित की गई राशि 16000 करोड़ रखी गई थी।

प्रधानमंत्री फसल योजना से पहले क्या था

  • फसलों  पर मिलने वाली प्रीमीयम की सीमा निर्धारित थी जिससे किसानों को एक भ्रम की स्थिति होती थी और बीमें का क्लेम मिलने में भी समस्या थी।
  • प्रीमियम दर में 2 प्रतिशत से 15 प्रतिशत की भिन्नता होती थी।

प्रधानमंत्री फसल योजना में नया क्या है

इस योजना के तहत सभी सीमा अब हटा ली गई है एवं मौसम के हिसाब से सभी फसलों का प्रीमीयम दरें एक समान है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana : एक फसल एक दर

एक फसल एक दर के हिसाब से केंद्र सरकार के द्वारा निर्धारित कि गई प्रीमियम दरें इस प्रकार है..

  • खरीफ की फसल के लिए प्रीमियम 2 प्रतिशत एवं रबि की फसल के लिये 1.5 प्रतिशत होगी।
  • वार्षिक वाणिज्यिक एवं बागवानी की फसलों के लिए 5 प्रतिशत होगी।

पीएम फसल बीमा योजना के बारे में संक्षिप्त विवरण

योजना का नामप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
विभागमिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर
लाभार्थीदेश के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन (फसलों की पैदावार के अनुसार)
उद्देश्यदेश के किसानों को सशक्त बनाना
अनुमोदित राशि₹200000 तक का बीमा
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार की योजना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmfby.gov.in

- Advertisement -

spot_img

Worldwide News, Local News in London, Tips & Tricks

spot_img

- Advertisement -